Home Blog

नौतनवा नगर में कोई सुरक्षित नहीं,पुलिस प्रशासन मौन ब्यापार प्रतिनिधि मंडल ने काली पट्टी बांध किया विरोध प्रदर्शन :संतोष जायसवाल

0

जनपद महराजगंज के नगर पालिका नौतनवा मे 30 से ऊपर मोटर साइकिल चोरी हो चुकी है। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई न चोर पकड़ा गया उक्त बातें ब्यापार मंडल अध्यक्ष संतोष जायसवाल ने कहा कि अगर कार्यवाही नहीं हुई तो, उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होगा।
प्रति दिन घटनाए हो रही है, कई बार उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के पदाधिकारी थाने में जाकर शिकायत कर चुके है, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हो रही, है। उनका बस यही जवाब है।कार्यवाही कर रहे है। एफआईआर के लिए भी दौड़ाया जाता है रोज मोटर साइकिल चोरी हो रहा है, कल जब क्षिनैती और डकैती शुरू हो जाएंगे तो प्रशासन जागेगा।।इसके पूर्व के थाना अध्यक्षजी से कई बार कहा गया लेकिन वही जवाब कार्यवाही हो रही है।आज उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल द्वारा व्यापारियों ने काली पट्टी बांध कर विरोध किया। जायसवाल मुहला से चलकर थाने तक काली पट्टी के साथ प्रदर्शन किया। एवं ज्ञा पन,दिया गया,co साहब नहीं थे,तो so साहब को दिया गया। युवा जिला अध्यक्ष संतोष अग्रहरी,नगर अध्यक्ष संतोष जायसवाल ओम प्रकाश जायसवाल, विंद्यचल अग्रहरि,बद्री, अग्रहरिअनिल श्रीवास्तव बंटी श्रीवास्तव,उमेश बेरीवाला,रवि,मद्धेशिया, ठाकुर सोनी,सूरज खान, अमरिंद्र सिंह,संत जायसवाल हरिशंकर जायसवाल,दिनेश वरना,मनोज कासौधन,राहुल वर्मा,आदि लोग उपस्थित थे।

एक्सक्लूसिव: यूपी के इस जिले में बिकते हैं ‘मरीज’, खरीदार लगाते हैं बोली

0

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में इलाज के लिए बिहार या यूपी के दूसरे शहरों से आने वाले मरीजों को बरगला कर कुछ निजी एंबुलेंस चालक और बिचौलिए अच्छे दामों पर कुछ निजी अस्पतालों को ‘बेच’ रहे हैं। इन अस्पतालों में इलाज के नाम पर मनमानी वसूली की जाती है। इसी लूट से अस्पताल प्रबंधन बिचौलियों और एंबुलेंस चालकों को मोटा कमीशन दे रहे हैं। एक गंभीर मरीज को अस्पताल पहुंचाने के लिए एंबुलेंस चालक को 45-50 हजार रुपये तक का मोटा कमीशन मिलने की बात सामने आई है। सामान्य मरीजों को भर्ती कराने पर 25-30 हजार रुपये तक मिल जाते हैं।
कमीशनबाजी के इस धंधे से आईएमए के पदाधिकारी भी चिंतित हैं। अब आईएमए ही कमीशनबाजी के आरोपों से चिकित्सा के पेशे को बचाना चाहता है। इस गठजोड़ की अमर उजाला ने पड़ताल की तो कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। पता चला कि कुछ निजी अस्पताल बिचौलिए व एंबुलेंस चालकों के सहारे ही चल रहे हैं। ये मरीज व उनके परिजनों को फंसाकर लाते हैं, फिर मोटा कमीशन लेते हैं। पड़ताल के मुताबिक जिले में एंबुलेंस चालकों और कुछ निजी अस्पताल संचालकों व डॉक्टरों के बीच गठजोड़ बेहद मजबूत है। इनके नेटवर्क को न तो स्वास्थ्य विभाग तोड़ पा रहा और न इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) गोरखपुर की इकाई। इनको चिकित्सा के पवित्र पेशे में गंदगी की जानकारी है, फिर भी वे कुछ नहीं कर पा रहे हैं। हाल के दिनों में बीआरडी मेडिकल कॉलेज के सामने से एक मरीज को बरगला कर निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसकी सूचना पर एडीएम फाइनेंस राजेश कुमार सिंह व ड्रग इंस्पेक्टर जय सिंह की टीम ने कार्रवाई की थी। निजी अस्पताल में भर्ती मरीज को पहले बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया था।सरकारी अस्पतालों के पास मजबूत नेटवर्क निजी अस्पतालों व दलालों का नेटवर्क सबसे ज्यादा जिला अस्पताल, महिला अस्पताल और बीआरडी मेडिकल कॉलेज के आसपास फैला है। जैसे ही मरीज गेट पर पहुंचता है, वैसे ही निजी एंबुलेंस चालक सक्रिय हो जाते हैं और मरीज को निजी अस्पताल में भर्ती कराने के प्रयास में जुट जाते हैं। परेशान मरीज या उसके परिजनों को बरगला कर निजी अस्पताल ले जाते हैं, फिर शुरू होता है पैसा जमा कराने का सिलसिला। यहां से आने वाले मरीजों को बनाते हैं निशाना इस नेटवर्क से जुड़े बिचौलिए देवरिया, कुशीनगर, महाराजगंज, बिहार, बस्ती, संतकबीरनगर, सिद्धार्थनगर और नेपाल से आने वाले मरीजों को निशाना बनाते हैं। गोरखनाथ क्षेत्र में बिचौलियों की सक्रियता सिद्धार्थनगर, महराजगंज और नेपाल से आने वाले मरीजों को गोरखनाथ क्षेत्र के आसपास के इलाकों के निजी अस्पतालों में ले जाया जाता है। इस क्षेत्र में निजी एंबुलेंस चालकों के साथ ही कुछ ऑटो व टेंपो चालकों का मजबूत नेटवर्क बना हुआ है। ऑटो, टैंपो में मरीज व उनके परिजन जैसे ही बैठते हैं, वैसे ही निजी अस्पताल के डॉक्टरों का गुणगान शुरू हो जाता है। यह गुणगान निजी अस्पताल में मरीज को पहुंचाने के बाद ही समाप्त होता है। यही नहीं बिचौलिए निजी अस्पतालों के निदेशक बनकर बात करते हैं। कहते हैं कि जाकर डॉक्टर साहब से मिल लीजिए। बता दीजिए डायरेक्टर साहब ने भेजा है। फुटहवा इनार के पास रहता है जमावड़ा देवरिया की तरफ से आने वाले मरीजों के लिए बिचौलिए फुटहवा इनार के आसपास जमावड़ा लगाते हैं। इनकी एंबुलेंस चालकों से दोस्ती होती है। जैसे ही एंबुलेंस दिखती है, वैसे ही हाथ देकर बिचौलिए आगे की सीट पर सवार हो जाते हैं। एंबुलेंस में बैठने के बाद सरकारी अस्पतालों व डॉक्टरों की लापरवाही बताई जाती है। परेशान मरीज या उनके परिजनों को विश्वास दिलाया जाता है कि कुछ निजी अस्पतालों में बढ़िया चिकित्सक हैं। इस झांसे में मरीज के परिजन आ भी जाते हैं। यह ‘खेल’ तब खुला, जब एक मरीज को आईएमए के पदाधिकारी को दिखाने के लिए भेजा गया था। इस मरीज को फुटहवा इनार से ही हाईजैक करके तारामंडल क्षेत्र के एक निजी अस्पताल ले जाया गया। मरीज से कहा गया था कि आईएमए के जिस पदाधिकारी के यहां आप जा रहे हो, वहां कई मरीजों की मौत हो चुकी है। दो दिन में ही मरीज के परिजनों की जेब खाली हो जाती है। फिर उन्हें आईएमए के पदाधिकारी की याद आती है। मरीज डिस्चार्ज कराके पदाधिकारी के पास पहुंचते हैं और आपबीती सुनाते हैं। अलग-अलग सड़कों पर रहती है निगरानी कुशीनगर और बिहार की तरफ से आने वाले मरीजों को जगदीशपुर रोड, महराजगंज की तरफ से आने वाले मरीजों को भटहट व कैंपियरगंज के पास हाईजैक किया जाता है। खास बात यह है कि एंबुलेंस के नंबर के आधार पर वह कुछ ही देर में मरीज व ड्राइवर का डिटेल पता कर लेते हैं। फोन पर उनसे सारी डीलिंग होती है। जो संचालक ज्यादा रेट देता है, मरीज उसके अस्पताल में पहुंचा दिए जाते हैं। एंबुलेंस चालक ने बरगलाकर भर्ती कराया था मरीज कुशीनगर निवासी मरीज को न्यू लोटस हॉस्पिटल में एंबुलेंस चालकों ने ही पहुंचाया था। पीड़ित मरीज बीआरडी मेडिकल कॉलेज इलाज कराने पहुंचा था। मेडिकल कॉलेज के बाहर मौजूद एंबुलेंस चालक ने बरगला कर निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया था। इससे पूर्व भी एक अधिकारी के चालक ने भी अपने एक रिश्तेदार को हॉस्पिटल में भर्ती कराया था, जहां पर मोटी रकम वसूली गई थी। आईएमए के रडार पर हैं 30 निजी अस्पताल आईएमए ने 30 ऐसे अस्पतालों की सूची तैयार की है, जो चिकित्सा के पवित्र पेशे को बदनाम कर रहे हैं। इसमें सबसे ज्यादा अस्पताल तारामंडल व गोरखनाथ क्षेत्र के हैं। जेल रोड, मेडिकल कॉलेज के आसपास, करीम नगर, गोलघर, कसया रोड पर भी में ऐसे अस्पताल हैं, जहां पर कमीशनबाजी से मरीज भर्ती कराए जाते हैं। तारामंडल में दो अस्पताल ऐसे हैं, जिनका संचालन कुछ एंबुलेंस चालक करते हैं। नौसड़ क्षेत्र में खुले एक अस्पताल का संचालक गोरखनाथ क्षेत्र का बिचौलिया बताया जा रहा है। ऐसे अस्पतालों की जांच में आईएमए अब स्वास्थ्य विभाग की मदद भी करेगा।

सदर सांसद रवि किशन शुक्ल ने मनाया योगी सरकार के चार साल पूरा होने का जश्न,जलाया दीप

0

गोरखपुर/उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को आज चार साल पूरे हो गए हैं।पूरे प्रदेश में जश्न का माहौल है। इसी क्रम में गोरखपुर के सदर सांसद रवि किशन शुक्ल ने अपने गोरखपुर स्थित आवास पर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ दीपोत्सव मनाया। इस अवसर पर सांसद रवि किशन शुक्ल ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में योगी सरकार ने शानदार चार साल पूरे किये हैं।आज का दिन हम सभी के लिए एक महापर्व की तरह है।हम भाग्यशाली हैं जो हम सभी को पूज्य महराज जी का नेतृत्व और मार्गदर्शन मिला।निः संदेह इन चार सालोंं में उत्तर प्रदेश का ऐतिहासिक विकास हुआ है।आजादी के बाद के वर्षो में जो नहीं हुआ वो महज चार सालोंं में योगी सरकार ने कर दिखाया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे की कमान संभालते ही सबसे पहले महिला सुरक्षा पर ध्यान दिया। एंटी रोमियों टीम गठित किया।अपराध और अपराधियों का सफाया कराया। सुशासन और सुरक्षित समाज की स्थापना की ।

रीयल हेल्प ब्यूरो ने एक ओर कानूनी जागरूकता कार्यक्रम करने के संबंध में बैठक की

0

उत्तर प्रदेश के जनपद सहारनपुर में रीयल हेल्प ब्यूरो की एक विशेष बैठक का आयोजन किया गया । जिसमें दिल्ली से आए रीयल हेल्प ब्यूरो के चेयरमैन तासीम अहमद ने कहा कि जैसे हमने दिल्ली में 8 मार्च 2021 को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के साथ संयुक्त रुप से कानूनी जागरूकता कार्यक्रम दिल्ली में किया था ठीक इसी तरह शीघ्र ही सहारनपुर में जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के साथ मिलकर कानूनी जागरूकता कार्यक्रम करेंगे । जो स्त्रियों पर हो रहे अत्याचार, शोषण, उत्पीड़न आदि को कैसे रोका जाए इस पर चर्चा होगी एवं वरिष्ठ नागरिकों के अधिकारों के संबंध में किया जाएगा । बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा की गई । इस मौके पर फिल्म इंडस्ट्रीज के प्रोड्यूसर/ डायरेक्टर जाहिद खान को सम्मानित किया गया । क्योंकि जाहिद खान लगातार देश प्रेमी गीत एवं इंसानियत संबंधित कलाकारी से लोगों का मनोरंजन एवं उनको जागरूक करने का सराहनीय कार्य कर रहे हैं । इस मौके पर राष्ट्रीय प्रवक्ता वीरसेन जैन, राष्ट्रीय विशेष सचिव इरफान खान, उत्तर प्रदेश उपाध्यक्षा संगीता देवी, प्रदेश विधि सलाहकार मुनीष कुमार एडवोकेट, गुलबहार हसन, जमशेद अली, विकास दुबे, शराफत, जाहिद खान, आशु, मनोज कुमार, अब्दुल रहमान, युसुफ आदि बहुत भारी संख्या में लोग मौजूद थे ।

महराजगंज जनपद के घुघुलि थाना क्षेत्र अंतर्गत स्थानीय कस्बे में एक बार फिर चोरो ने 2 दुकानों को बनाया निशाना,पुलिस गहरी निद्रा मे

0

महराजगंज जनपद के घुघुलि थाना क्षेत्र अंतर्गत स्थानीय कस्बे में एक बार फिर चोरों ने दो दुकानों को निशाना बनाया। मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की रात पुलिस चौकी से महज 500 मीटर की दूरी पर दो दुकानों का छत में लगे टीन शेड को तोड़कर लाखों रुपये का सामान चुरा ले गए।
घुघली कस्बा के वार्ड नंबर 9 में रेलवे ढाला के पास( फैशन ईरा गारमेंट) मेन रोड पर पवन जायसवाल की कपड़े दुकान है। वह रोज की भांति बुधवार की रात दुकान बंद करके घर चले गए। सुबह आए तो दुकान का ताला खोलकर जब अंदर का नजरा देखा तो भौचक रह गए। चोर दुकान के छत पर लगे टिन शेड को तोड़कर समान चुरा ले गए थे। दुकानदार के मुताबिक करीब एक लाख रुपये की चोरी हुई है। इसी दुकान के सटे पौहरिया गांव निवासी बांकेलाल गुप्ता के फल की दुकान पर भी चोराें ने हाथ साफ किया। चोरों ने दुकान का इस दुकान का भी टिन शेड को तोड़कर दुकान में रखे एक लैपटॉप व पाच हजार नकदी चुरा ले गए।दोनों दुकानदारों ने घुघली चौकी में तहरीर देकर चोरी के खुलासा की मांग की है। वही चोरी की घटना से दुकानदारों में काफी आक्रोश का माहौल बना हुआछ. है आए दिन घुघली में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जाता है जिस पर पुलिस कुछ नहीं कर पाती है।

ब्लॉक सभागार निचलौल में प्रेरणा ज्ञानोत्सव का आयोजन किया गया।

0

मुख्य अतिथि सिसवा विधायक श्री प्रेम सागर ने दिप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया कम्पोजिट विद्यालय गिरहिया बंजारी पट्टी व कम्पोजिट विद्यालय रौतार के बच्चों द्वारा मनमोहक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गयाप्राथमिक विद्यालय रायपुर और प्राथमिक विद्यालय कपरौली के tlm का प्रस्तुतिकरण विशेष रोचक रहा कार्यक्रम में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश यादव, खण्ड शिक्षा अधिकारी निचलौल श्याम सुंदर पटेल , एसडीएम निचलौल रामसजीवन मौर्य तथा खण्ड विकास अधिकारी निचलौल एवं मुख्य अतिथि के तौर पर सिसवा विधायक प्रेम सागर पटेल उपस्थित रहे आयोजन को सफल बनाने में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष शशिकेश तिवारी,उपाध्यक्ष राजकुमार पाण्डेय,महामंत्री सुमित पटेल अविनाश अग्निहोत्री ने विशेष योगदान दिया।कार्यक्रम में उदय नारायण दूबे,शैलेश तिवारी,जितेंद्र प्रताप वर्मा, आरडी प्रसाद, अविरल त्रिवेदी, धन्नू चौहान, उपेंद्र त्रिपाठी,मुदित त्रिवेदी,अनीस अख़तर,संजय चौधरी,शैलेश गौंड, विद्रावन बिहारी यादव,वीरेंद्र नायक,प्रशांत कुमार,विन्द्रावती सिंह,मिरा गुप्ता,कविता जायसवाल,अर्चना पाण्डेय,अस्तित्व,मयंकेश्वर,मुकेश सिंह,राजवीर सिंह,सोनू,पुस्पेंद्र,आदि सैकड़ों शिक्षक,शिक्षिकाएं मौजूद रहे।

अनियंत्रित स्कूल वाहन पलटा दर्जन भर स्कूली बच्चे हुए जख्मी

0

यूपी के जनपद महराजगंज के निचलौल क्षेत्र के एक निजी स्कूल का मैजिक वाहन तब पलट गया ज़ब वह सुबह बच्चों को लेकर स्कूल जा रहा था बताया जा रहा है की वाहन चालक शराब के नशे में दूत था उक्त मामले में विद्यालय प्रबंधन कुछ भी बोलने से साफ मना कर रहा है वहीं छात्रों के परिजनो ने चालक पर शराब के नशे में दूत होकर वाहन चलाने का आरोप लगाते हुए विद्यालय प्रबंधन से चालक का मेडिकल कराने की मांग किया तो विद्यालय प्रबंधन मेडिकल कराने से बचता नजर आ रहा है। मिली जानकारी अनुसार नारायण एकेडमी करमहिया निचलौल महराजगंज की स्कूली वाहन आज सुबह बच्चोँ को स्कूल लेकर जा रही थी की अचानक पलट गई जिसे लेकर अब लोग आक्रोषित हैं।
वजह यह हैं की मैजिक वाहन चार सीटर सवारी के लिए मान्य हैं पर विद्यालय वाहन पुरानी डग्गामार वाहनों को खरीद मानक से अधिक बच्चों को बैठते हैं और अविभावकों से बच्चोँ के भाड़े के नाम पर मोटी रकम वसूल करते हैं जिसे लेकर लोग आक्रोषित हैं और शिक्षा विभाग सहित परिवाहन विभाग से कार्यवाही की मांग कर रहे हैं वजह शिक्षा के नाम पर मासूमों के जान से खेल रही महाराजगंज की प्राइवेट स्कूलें हैं सरकार के लाखों कोशिशों बावजूद प्राइवेट स्कूल अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे है डग्गामार वाहन 4 सीटर मैजिक टैक्सी में 20 से 25 बच्चों को ठूसा जाता हैं
और अभिभावकों से किराये के नाम से भारी भरकम रकम वसूल किया जाता हैं आज सुबह 16 /3/2021 को रेगहियाँ से करमहियां नारायण एकेडमी स्कूल के टाटा मैजिक में तकरीबन 20 से 21 बच्चों को भर कर स्कूल ले जाते समय मैजिक वाहन दुर्घटना ग्रस्त हो गया। जिसमे सवार बच्चों को काफी चोटे आइ हैं। वही अभिभावकों का रो रो के बुरा हाल हैं तो स्कूल प्रबंधन मामले का रफा दफा करने में लगा हैं परिजन (ARTO) महराजगंज को ऐसी गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन की चेकिंग कर करवाई करने की मांग कर रहे है जिससे प्रत्येक वर्ष कुकुरमुत्ते की तरह पनप रही शिक्षा के नाम की दुकाने बंद हो सके और बच्चोँ की जान से खिलवाड़ पर अंकुश लग सके.

महाराष्‍ट्र में कोरोना के रिकॉर्ड 25,833 नए केस, पंजाब के जालंधर-लुधियाना में नाइट कर्फ्यू

0

नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Epidemic) का कहर बढ़ता ही जा रहा है. महाराष्‍ट्र में बेकाबू कोरोना के आंकड़े डराने लगे हैं. सरकार की लाख कोशिशों के बाजवूद रोजाना रिकॉर्ड स्‍तर के संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं. राज्‍य में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 25,833 नए मामले सामने आए हैं. हालांकि इस दौरान 12,764 मरीज स्‍वस्‍थ भी हुए हैं जबकि 58 मरीजों को जान गंवानी पड़ी. वहीं पंजाब का भी कोविड-19 की रफ्तार से बुरा हाल है. महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए जालंधर और लुधियाना में आज रात से नाइट कर्फ्यू का आदेश जारी किया गया है.बता दें कि महाराष्‍ट्र में कोरोना वायरस से सबसे ज्‍यादा प्रभावित जिला नागपुर है. यहां पर गुरुवार को भी महामारी के 3,796 नए मामले सामने आए. जबकि इस दौरान 1,277 मरीज ठीक भी हुए और 23 मरीजों की मौत भी हो गई. नागपुर में अब तक 1,82,552 लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि 1,54,410 मरीज स्‍वस्‍थ भी हो चुके हैं. संक्रमण से 4,528 मरीजों की जान भी जा चुकी है.वहीं, पंजाब में भी कोरोना की रफ्तार डराने लगी है. राज्‍य के जालंधर के जिला कलेक्टर घनश्याम थोरी और लुधियाना के जिला कलेक्टर वरिंदर शारना ने अपने जिलों में आज रात से ही कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है. अगले आदेश तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा.राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण से तीन और लोगो की मौत, 327 नये मामले राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमण के 327 नये मामले बृहस्पतिवार को आये जिससे राज्य में संक्रमितों की अब तक की कुल संख्या 3,24,101 हो गई है. वहीं, इस घातक संक्रमण से राज्य में तीन और लोगो की मौत हो गई जिससे राज्य में संक्रमण से मरने वालो की संख्या 2,794 हो गई है. राज्य में संक्रमित उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 3,023 हो गई है. अधिकारियों ने बताया कि 327 नये मामले आने से राज्य में संक्रमितों की अब तक की कुल संख्या 3,24,101 हो गई है जिनमें 3,023 रोगी उपचाराधीन हैं.उन्होंने बताया कि नये मामलों में जयपुर के 81, कोटा-राजसमंद के 34-34, उदयपुर के 32, अजमेर के 21, जोधपुर के 19, बांसवाड़ा-भीलवाड़ा के 16-16 व भरतपुर के 11 नये मरीज शामिल हैं. उन्होंने बताया कि राज्य में गत 24 घंटे में 152 मरीज संक्रमित मुक्त हुए हैं जिन्हें मिलाकर राजस्थान में अब तक कुल 3,18,284 संक्रमित ठीक हो चुके है. अधिकारियों ने बताया कि चित्तौड़गढ, डूंगरपुर, और उदयपुर में एक-एक संक्रमित की मौत हो जाने से राज्य में अब तक इस घातक वायरस की चपेट में आने से कुल 2,794 लोगों की जान जा चुकी है.
केरल में कोविड-19 के 1,899 नए मामले आए, 15 मौतें हुईं केरल में गुरुवार को कोविड-19 के 1,899 नए मामले सामने आए और 15 मौतें हुईं. इन नये मामलों के साथ ही राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 10.98 लाख हो गए और मृतकों की संख्या 4,450 पहुंच गईं. राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा कि राज्य में पिछले 24 घंटों में 54,314 नमूनों की जांच की गई है और संक्रमण दर 3.5 प्रतिशत है.अब तक राज्य भर में 1.25 करोड़ नमूनों की जांच की जा चुकी है. कोझीकोड में सबसे अधिक 213 मामले आए, जबकि तिरुवनंतपुरम में 200 और कोल्लम में 188 मामले आए. इस बीच, 2,119 लोगों ने बीमारी से निजात पाई, जिससे राज्य में अब तक ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 10,68,378 हो गई. अब राज्य में 25,158 लोग उपचाराधीन हैं.

0

यूपी के जनपद महाराजगंज के निचलौल तहसील के अंतर्गत ग्रामसभा बैठवालिया में आज सुबह अचानक से एक भैंस के मरने से लोगो में अफरा तफरी का माहौल पैदा हो गया है, तथा परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया है, ताजा समाचार मिलने तक बैठावलिया ग्रामसभा के निवासी हबीब अंसारी नामक व्यक्ति के वहा भैंस का पालन किया गया था , लेकिन अचानक से ही सुबह में भैंस मरी हुई दिखाई दी तो सब लोगो में अफरा तफरी मच गई , कुछ लोगो का कहना है, की किसी सांप अथवा किसी जहरीले जीव के काटने से इसकी मौत हुई तो कुछ लोगो इसको बीमारी का नाम दे रहे है, परिवार चूंकि काफी गरीब है, इसके वजह से रो रोकर परिजनों का बुरा हाल है, क्युकी सबकी जीविका का यही एक मात्र साधन थी ।जिसपर समाजसेवी श्याम मोदनवाल एवं पूर्व ग्रामप्रधान श्री फगुनेश मोदनवाल जी ने परिवार के लोगो को कुछ मुआवजा दिलवाने का आश्वासन दिया है। बैठवालियां से औरंगजेब शेख की रिपोर्ट। अलिराज

अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन के पदाधिकारियों को उपजिलाधिकारी ने किया सम्मानित

0

जनपद महराजगंज में अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन नई दिल्ली द्वारा भारतवर्ष में हर एक राज्य में और हर जिले पे इस संगठन से लोग जुड़ रहे है और समाज में हो रहे भ्रष्टाचार महिलाओं के साथ शोषण, रिश्वतखोरी से न्याय दिलाने का काम किया जा रहा है जबकि नौतनवा तहसील के एसडीएम अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संगठन पदाधिकारीओ को आईडी कार्ड व अथॉरिटी लेटर देकर सम्मानित किये उपजिलाधिकारी ने अपनें संबोधन में कहा कि यह संगठन और पुलिस प्रशासन सक्रिय हो जाएगी और समाज में हो रहे भ्रष्टाचार महिलाओं के साथ अन्याय ,रिश्वतखोरी जैसी घटना रोका जा सकता है और एसडीएम ने बात बात मे कहा की अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन के पदाधिकारी कहीं भी कोई मामला देखते हैं तो जैसे समाज में हो रहे अत्याचार महिलाओं के साथ शोषण रिश्वतखोरी महिला उत्पीड़न तुरंत एक्शन लेते हैं और प्रशासन से कार्यवाही करने की मांग करते हैं देखा जाए तो अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय मानवाधिकार के सुरक्षा संगठन जनपद महराजगंज के जिलाध्यक्ष तबारक अली बहुत सक्रिय और ईमानदार व्यक्ति हैं किसी भी तरह का कोई भी मामला इनके संगठन के संज्ञान में आता है तो यह तुरंत जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक वह किसी भी विभाग के अधिकारियों के पास तुरंत फोन करके अवगत कराते है और विभागी द्वारा कार्यवाही की मांग करते हैं और इनकी बातों को विभाग सुनकर कार्यवाही का करने का आदेश पारित कर देता है और कार्यवाही भी किया जाता है जनपद महाराजगंज में काफी लोग जुड़े हुए हैं जो कि सभी लोग सक्रिय और ईमानदारी से काम कर रहे हैं किसी के भी संज्ञा में आता है कोई भी मामला तो तुरंत कार्रवाई करने का मांग करते है यह संगठन काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है l

APLICATIONS

HOT NEWS