आप सभी धर्म प्रेमियों को सादर प्रणाम। कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को देवउठनी एकादशी कहते हैं. इस बार देवउठनी एकादशी 25 नवंबर 2020 यानी आज मनाई जाएगी.माना जाता है कि भगवान विष्णु चार महीने के लिए क्षीर सागर में निद्रा करने के कारण चातुर्मास में विवाह और मांगलिक कार्य थम जाते हैं. वहीं देवोत्थान एकादशी पर भगवान के जागने के बाद से पुनः शादी-विवाह जैसे सभी मांगलिक कार्य शुरू हो जाते हैं. ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें करने से आप विष्णु जी का आशीर्वाद पा सकते हैं.देवउठनी एकादशी या कार्तिक एकादशी के दिन दोनों समय तुलसी के पौधे के निकट गाय के घी का दीपक जला कर ऊँ वासुदेवाय नम: मंत्र बोलते हुए 11 परिक्रमा करें। धन की इच्छा रखने वाले लोगों को इस दिन किसी विष्णु मंदिर में जाकर भगवान विष्णु को सफेद मिठाई या खीर का भोग लगाना चाहिए। मिठाई में तुलसी के पत्ते अवश्य होने चाहिए। भगवान विष्णु क पीले रंग के कपड़े, पीले फूल, फल या पीला अनाज दान करें। एकादशी के दिन भगवान श्रीविष्णु का केसर मिश्रित दूध से अभिषेक करें। इस उपाय को करने से भगवान विष्णु के साथ माता लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं और साधक की हर इच्छा पूरी होती हैं। अगर आप भारी कर्जे में फंस गए हैं और कर्जा चुक नहीं रहा है तो देवउठनी एकादशी के दिन पीपल के वृक्ष पर पानी चढ़ाएं और शाम के समय दीपक जलाएं। इस उपाय से जल्दी ही कर्ज समाप्त हो जाएगा। इस दिन दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर भगवान श्रीविष्णु का अभिषेक करें। भगवान विष्णु की पूजा करें और पूजा करते समय कुछ पैसे विष्णु भगवान की मूर्ति या तस्वीर के समीप रख दें। पूजा करने के बाद इन पैसों को फिर से अपने पर्स में रख लें। इससे तुरंत धनलाभ होगा। इन सभी उपायों से श्री हरि विष्णु और माता लक्ष्मी दोनों प्रसन्न होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here