Home Blog Page 2

निचलौल राजेंद्र प्रसाद ताराचंद्र महाविद्यालय में लगा विज्ञान प्रदर्शनीयपहुंचे क्षेत्र के गड़मान्य छात्रो की प्रदर्शनी देख हुए विभोर

0

यूपी के जनपद महराजगंज के निचलौल स्थित राजेंद्र प्रसाद तारा चंद्र महाविद्यालय में लगा विज्ञानं प्रदर्शनी छात्र छात्राओं की प्रदर्शनीय देखने पहुंचे क्षेत्र के सम्मानित लोग |
मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे प्रेस क्लब के जिलाध्यक्ष अजय कुमार श्रीवास्तव ने जहाँ छात्र छात्राओं की प्रदर्शनी को देख सराहना किया वहीं उनका हौसला अफजाई भी किया तो साथ में उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए कामनायें की| तथा छात्र छात्राओं को सम्बोधित भी किया और पढ़ाई प्रदर्शनी से संबंध में टिप्स भी दिया और कैसे भविष्य सवारा जा सकता है की बातें भी बताई तथा छात्र छात्राओं की उत्कृष्ट प्रदर्शनी को देख भाव वोभोर होते हुए उन्हें पुरस्कार भी वितरित किया तो वहीं इस बावत हमने मुख्यमंत्री अतिथि सहित मौके पर आये लोगों व छात्र छात्राओं से भी विज्ञान प्रदर्शनी पर बात किया और साक्षात्कार लिया देखें क्या कहाँ छात्र छात्राओं व गदमान्यो के साथ मुख्य अतिथि ने इस बावत हमने महाविद्यालय के प्रबंधक अम्ब्रीश यादव से भी जाना बच्चोँ के पक्ष में उनका मत देखें सभी ने क्या कहा यूपी के जनपद महराजगंज के निचलौल से अली राज की रिपोर्ट

महराजगंज।बृजमनगंज कस्बे के प्रतिष्ठित व्यापारी के दो मंजिला मकान में लगी भीषण आग नगदी सहित कई लाखों का सामान जलकर राख

0

जनपद महराजगंज क्षेत्र नगर पंचायत बृजमनगंज कस्बे के प्रतिष्ठित व्यापारी रूपनारायण जायसवाल के मकान में देर रात लगभग 1:00 बजे अचानक भीषण आग लग जाने से पूरा मकान जलकर राख हो गया आग लगने का कारण अभी कुछ पता नहीं चल पाया है सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जब आग की लपटें उठी तो रात में पहरा कर रहे चौकीदारों ने देखा उन्होंने आवाज देकर घटना की सूचना लोगों को दी तब जाकर लोग घर छोड़कर बाहर निकले और घर में धीरे-धीरे आग तेजी से फैल गया आग फैलते ही रसोईघर में रखा 2 सिलेंडर तेजी के साथ फटा धमाके की आवाज से कस्बा गूंज उठा इस आग ने पूरे मकान को अपने आगोश में ले लिया घटना की सूचना मिलते ही देर रात थानाध्यक्ष कमलेश प्रताप सिंह पुलिस फोर्स के साथ घटना स्थल पर पहुँच कर लोगों की मदद करते हुए आग बुझाने में लगे रहे क्षेत्र के विधायक बजरंग बहादुर सिंह ने पहुंचकर दमकल की गाड़ियां मंगवाई एवं आग बुझाने बुझाने में स्वयं लगे रहे सीओ फरेंदा देर रात घटना स्थल पहुंच दुख:जताते हुए आग बुझाने में सहयोग करते रहे। ईश्वर का लाख-लाख शुक्र है कि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है सपरिवार पीछे के रास्ते से निकल गए आज सुबह कस्बे में जब लोगों ने यह समाचार सुना तो लोग अचंभित हो गए और उन्होंने उनके आवास पहुंचकर परिजनों को सांत्वना देने का प्रयास कर रहे हैं काफी संख्या में भीड़ लगी हुई है इस दुर्घटना में लगभग कई लाखों का सामान जलकर राख हो गया नगर एवं जेवरात के बारे में अभी कितना नुकसान हुआ कुछ कहा नहीं जा सकता।

गंभीरनाथ प्रेक्षागृह एवं सांस्कृतिक केंद्र का डीएम व नगर विधायक ने किया निरीक्षण

0

गोरखपुर।नगर विधायक डा राधा मोहन दास अग्रवाल ने जिलाधिकारी गोरखपुर के साथ आज निर्माणाधीन योगी बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह एवं सांस्कृतिक केंद्र गोरखपुर का निरीक्षण किया और महानगर के नाट्यकर्मियों के सुझावों को स्वीकार करते हुए जिलाधिकारी को आवश्यक सुविधाएं जोड़ देने के लिए निर्देशित किया । जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों को उक्त परिवर्तन करने के लिए निर्देशित किया है। मालूम हो कि नगर विधायक ने पंद्रह दिन पूर्व गोरखपुर के सांस्कृतिककर्मियों के साथ प्रेक्षागृह का निरीक्षण करने के बाद विधान सभा के पटल पर रंगकर्मियों के हित मे बन रहे प्रेक्षागृह को लेकर बात रखी व लखनऊ में ही संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम तथा सचिव रविकुमार एनजी से मुलाकात करके उनसे कहा था कि प्रेक्षागृह के 250 सीट के सभागार में कुछ आवश्यक परिवर्तन करके उसे सभागार कम प्रेक्षागृह मे बदलने की जरूरत है। अधिकारियों ने अपनी सहमति देते हुए जिलाधिकारी गोरखपुर के० विजयेंद्र पांडियन को आवश्यक निर्देश दिये थे। उसी क्रम में नगर विधायक ने जिलाधिकारी भारतेंदु नाट्य अकादमी के अध्यक्ष रविशंकर खरे प्रो भारत भूषण अजीत प्रताप सिंह नारायण पाण्डेय रविन्द्र रंगधर के साथ प्रेक्षागृह का निरीक्षण किया और यह निश्चित हुआ कि आगामी 20 को माननीय मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पण होने के बाद आवश्यक परिवर्तन कर लिए जाएंगे।

शस्त्रों को जमा कराकर अवैध शराब के निष्कर्षण व बिक्री पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाये एडीजी

0

विगत चुनावों में गड़बड़ी फैलाने वालों के विरूद्ध कार्यवाही कर चुनाव में गुटबाजी का आंकलन कर प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही करे- एडीजी महिला सम्बन्धी अपराधों का तत्काल संज्ञान लेकर प्रभावी कार्यवाही करे एडीजी सोशल मीडिया पर डाली जा रही पोस्ट की सतत् निगरानी कर आपत्तिजनक व भ्रामक दुष्प्रचार वाली पोस्ट पर तत्काल वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित करे एडीजी पुलिस कप्तान सीयूजी नंबरों को करें अटेंड- एडीजी जोन गोरखपुर। पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश एवं अपर पुलिस महानिदेशक कानून – व्यवस्था ने समस्त जोनल अपर पुलिस महानिदेशक एवं परिक्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक के साथ वीडियो कान्फ्रेन्सिंग कर आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी मिशन शक्ति सोशल मीडिया का उपयोग एवं माफियाओं के विरूद्ध कार्यवाही के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा निर्देश दिया। वीडियो कांफ्रेंसिंग के बाद एडीजी जोन अखिल कुमार ने पुलिस महानिरीक्षक गोरखपुर परिक्षेत्र गोरखपुर राजेश मोदक डी राव सहित बस्ती व देवीपाटन के पुलिस महानिरीक्षक व अपर पुलिस महानिरीक्षक तथा पुलिस कप्तानों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करते हुए कहा की आगामी चुनाव के परिप्रेक्ष्य में विशेष रूप से शस्त्रों का जमा कराया जाना अवैध शराब के निष्कर्षण व बिक्री पर पूर्ण प्रतिबन्ध विगत पंचायत / विधान सभा / लोक सभा चुनावों में गड़बड़ी फैलाने वालों के विरूद्ध कार्यवाही तथा चुनाव से सम्बन्धित गुटबाजी का आंकलन कर प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया महिलाओं की सुरक्षा हेतु चलाये जा रहे मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत महिला सम्बन्धी अपराधों का तत्काल संज्ञान लेकर प्रभावी कार्यवाही हेतु बताया गया । सोशल मीडिया पर डाली जा रही पोस्ट की सतत् निगरानी एवं आपत्तिजनक व भ्रामक दुष्प्रचार वाली पोस्ट पर तत्काल वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु बताया गया तथा चिन्हित माफियाओं के विरूद्ध सख्त कार्यवाही किये जाने हेतु निर्देशित किया गया इसके अतिरिक्त यह भी निर्देशित किया गया कि समस्त पुलिस अधीक्षक सीयूजी नम्बर पर आने वाली प्रत्येक कॉल को अटेण्ड करें व कार्यालयों में बैठकर जन शिकायतों का प्रत्येक दशा में निस्तारण करें तथा पुलिस लाईन में होने वाली परेड में सम्बन्धित अधिकारी प्रत्येक दशा में सम्मिलित हों तथा पुलिस लाईन परिसर मेस आवासीय परिसर का भ्रमण कर साफ- सफाई एवं अन्य व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जायें । साथ ही कर्मचारियों का सम्मेलन कर उनकी समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण किया जाए ।

इलाहाबाद हाईकोर्ट: सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने का निर्देश,जरुरत हो तो पुलिस की मदद लें राजस्व अधिकारी

0

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने जिलाधिकारी कुशीनगर को निर्देश दिया है कि वह दुधही गांव पड़रौन महुरही तमखुईराज तहसील में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण की शिकायत की जांच कर कार्रवाई करें। यदि आवश्यकता हो तो अतिक्रमण कारियों के खिलाफ पुलिस की मदद ली जाए और अतिक्रमण करने वालों से मुआवजा भी वसूला जाए। मनोज कुमार जायसवाल की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश न्यायमूर्ति संजय यादव और न्यायमूर्ति अजय भनोट की पीठ ने दिया है।
याची का कहना है कि दुधही गांव में कई लोगों ने सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर निर्माण कर लिया है जिसे हटवाया जाए। कोर्ट ने डीएम को निर्देश दिया है कि वह इस याचिका को प्रत्यावेदन के रूप में स्वीकार करते हुए मामले की जांच करें। और यदि शिकायत सही पाई जाती है तो कानून के तहत अतिक्रमण हटाने का आदेश पारित करें। यदि डीएम को इस काम में कोई दिक्कत आती हैै तो वह इस अदालत में अपनी रिपोर्ट दाखिल करें ताकि निर्देश जारी किए जा सकें। कोर्ट ने राजस्व अधिकारियों से भी कहा है कि यदि वह अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करते हैं और अतिक्रमण करने वालों की ओर से कोई बाधा या धमकी दी जाती है तो एसपी कुशीनगर से पुलिस की मदद मांगे। कोर्ट ने एसपी को निर्देश दिया है कि राजस्व अधिकारियों की मांग पर उनको पर्याप्त फोर्स उपलब्ध कराना सुनिश्चिचत करें। कोर्ट ने यह भी साफ किया है कि प्रभावित लोगों का पक्ष भी सुना जाए। और यदि कोई व्यक्ति डीएम के आदेश से व्यथित है तो वह सक्षम क्षेत्राधिकार वाले न्यायालय में जा सकता है। इसके लिए कार्रवाई करने से पूर्व प्रभावित पक्ष को एक सप्ताह का समय दिया जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट गोरखपुर चिड़ि‍याघर में बना ये रिकार्ड, जानि‍ए लोकार्पण की तारीख, आम लोग कब से कर सकेंगे सैर

0

गोरखपुर/उत्‍तर प्रदेश के गोरखपुर का शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान देश का पहला ऐसा प्राणी उद्यान है जिसमें सिर्फ 33 दिन में रिकार्ड 26 प्रजातियों के 95 वन्यजीव विभिन्न प्राणी उद्यानों से लाए गए हैं। हालांकि यह सिलसिला अभी थमा नहीं है, 20 मार्च को प्रस्तावित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लोकार्पण के पूर्व प्राणी उद्यान की कोशिश 25 प्रजातियों के 50 के करीब वन्यजीव और प्राणी उद्यान में लाए जाने की है। हालांकि यह काम किसी चुनौती से कम नहीं है। 11 फरवरी को विनोद वन से वन्यजीव लाए जाने से शुरू हुआ सिलसिला अब तक थमा नहीं है। सोमवार तक राष्ट्रीय प्राणी उद्यान दिल्ली, लखनऊ प्राणी उद्यान, कानपुर प्राणी उद्यान, इटावा लायन सफारी एवं विनोद वन से 26 प्रजातियों के 95 वन्यजीव प्राणी उद्यान में लाए जा चुके हैं। मार्च माह में ही प्राणी उद्यान के लोकार्पण की चुनौतियों के बीच इतनी तेजी दिखाने के बाद भी प्राणी उद्यान में विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीव के बाड़े खाली पड़े हैं। ताकि लोकार्पण के वक्त खाली न रहे कोई बाड़ा प्राणी उद्यान का निर्माण करने वाली कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम और प्राणी उद्यान के अधिकारियों की मंशा है कि योगी आदित्यनाथ लोकार्पण करें तो कोई भी बाड़ा खाली न रहे। बल्कि लोकार्पण के साथ प्राणी उद्यान को पूर्वांचल वासियों के लिए खोल दिया जाए। इसलिए उनकी कोशिश है। कि जल्द से जल्द सभी बाड़ों में वन्यजीव को लाया जाए। लेकिन उनकी यह कोशिश 31 मार्च के पूर्व पूरी होती नहीं दिखती। फिलहाल आने वाले दिनों में वन्यजीव को लाए जाने का सिलसिला और तेज होने वाला है। इन 8 बाड़ों को अभी वन्यजीव का इंतजार गैंडा(राइनो), जेब्रा, हिमायलन ब्लैक बीयर, स्लॉथ बीयर, (भेडिया)वुल्फ, लैपर्ड कैट, फिशिंग कैट, खरहा का बाड़ा खाली ही पड़ा है। इन वन्यजीव को कानपुर एवं लखनऊ प्राणी उद्यान से लाया जाना है। तो कुछ को बिरसामुंडा प्राणी उद्यान झारखण्ड से लाया जाना है।
पक्षियों के 8 बाड़े में 7 खाली पड़े, वॉक एण्ड एवियरी भी खाली इसके अलावा पक्षियों के लिए बनाए गए आठ बाड़े में सिर्फ एक में काकातिल पक्षी है। वॉक एण्ड एवियरी भी खाली पड़ा है। रैप्टाइल श्रेणी के जीवों में सर्पेटेरियम के 10 बाड़ा में सिर्फ 4 में ही सांप हैं। शेष खाली पड़े हैं। बटरफ्लाई ब्रीडिंग एवं कंजरवेशन पार्क में अभी काम चल रहा है। एक्वेरियम भी खाली पड़ा है। सिर्फ एक पशु चिकित्सक के भरोसे प्राणी उद्यान गोरखपुर के प्राणी उद्यान में सिर्फ एक ही पशु चिकित्सक डॉ योगेश प्रताप सिंह अपनी सेवाएं दे रहे हैं। जबकि वाइल्ड लाइफ यूपी के वाइल्ड लाइफ विशेषज्ञ में एक बड़ा नाम डॉ आर के सिंह का है, इन दिनों गोरखपुर प्राणी उद्यान को उनकी भी सेवाएं मिल रही है। इतने कम समय में इतने ज्यादा वन्यजीव को अभिवहन कर सफलता पूर्वक गोरखपुर प्राणी उद्यान में लाना और उन्हें यहां के महौल में रच-बस जाने के पीछे इन दोनों ही डॉक्टरों की सेवाएं सरहनीय है। हालांकि लखनऊ, कानपुर और इटावा लायन सफारी में सभी स्थानों पर 3-3 पशु चिकित्सक तैनात हैं।

राप्ती नदी के तट पर स्थित नवनिर्मित घाट पर हुई भव्य महा आरती

0

गोरखपुर/राप्ती नदी के तट पर स्थित नवनिर्मित घाट पर हुई भव्य महाआरती। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा कुछ दिन पूर्व उद्घाटन किए हुए राप्ती नदी तट पर भव्य घाट पर आज रात्रि मां की आरती का लोकार्पण एवं भव्य आरती किया गया जिस के मुख्य अतिथि के रूप में नगर विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल अंतराष्ट्रीय लोक गायक राकेश श्रीवास्तव एवं स्थानीय पार्षद संजय श्रीवास्तव समेत सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ऑफिस का फोन नहीं उठाने वाले 25 डीएम और 4 कमिश्नर को नोटिस

0

लखनऊ गोरखपुर/ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंडल और जिलों के अफसरों को निर्देश जारी किए हैं कि वे अपना सीयूजी नंबर खुद उठाएं निर्देश पर कितना अमल हुआ इसकी पड़ताल खुद मुख्यमंत्री ने करवाई। मुख्यमंत्री ऑफिस से अफसरों ने मंडल और जिलों के आला अफसरों को कार्यालय अवधि में फोन मिलाया। इस टेस्ट में कई जिलों के कमिश्नर सहित डीएम एसपी फेल मिले हैं। लखनऊ के कमिश्नर ने भी सीयूजी नंबर नहीं उठाया। अब नियुक्ति और कार्मिक विभाग ने 25 से अधिक कमिश्नर डीएम को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री कार्यालय से कई मंडलों और जिलों के कमिश्नर ,डीएम व एसएसपी को उनके सीयूजी नंबर पर फोन मिलवाया गया। इस दौरान एक तिहाई जिलों के अफसरों की साफ तौर पर लापरवाही सामने आई है। मंडल के आला अफसरों जिनके ऊपर जिलों की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी है उनके भी फोन नहीं उठे। इन मंडल के कमिश्नर का यह रहा हाल लखनऊ के अलावा अलीगढ़ प्रयागराज गोरखपुर और वाराणसी के कमिश्नर का भी फोन नहीं उठा। आगरा मेरठ आजमगढ़ के कमिश्नर का फोन ही नहीं मिला। कानपुर के कमिश्नर का फोन उनके पीआरओ ने उठाया। इसको गंभीरता से लेते हुए अफसरों को नोटिस जारी की गई है। सूत्रों के अनुसार फोन ना उठाने वाले पुलिस कप्तानों को भी गिरी विभाग की ओर से जवाब तलब किया जाएगा इन जिलों के डीएम के नहीं उठे फोन
अलीगढ़, आजमगढ़, मऊ, कानपुर नगर, कानपुर देहात, कन्नौज, औरैया गोरखपुर, कुशीनगर, झांसी, जालौन, अमरोहा, उन्नाव, आगरा, इटावा, फिरोजाबाद का फोन पीआरओ ने उठाया। लखीमपुर, रायबरेली और सीतापुर के डीएम का कॉल बैक आया। इन जिलों के पुलिस कप्तान भी फोन से दूर आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, मथुरा, अलीगढ़, प्रयागराज ,कानपुर ,इटावा कन्नौज, औरैया, कुशीनगर, जालौन, मेरठ, शामली, रायबरेली, गोरखपुर,का फोन पीआरओ ने उठाया। ललितपुर वह कासगंज फोन नहीं मिला। गाजीपुर, जौनपुर के कप्तान का काल बैक आया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट गोरखपुर चिड़ि‍याघर में बना ये रिकार्ड, जानि‍ए लोकार्पण की तारीख, आम लोग कब से कर सकेंगे सैर

0

गोरखपुर/उत्‍तर प्रदेश के गोरखपुर का शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान देश का पहला ऐसा प्राणी उद्यान है जिसमें सिर्फ 33 दिन में रिकार्ड 26 प्रजातियों के 95 वन्यजीव विभिन्न प्राणी उद्यानों से लाए गए हैं। हालांकि यह सिलसिला अभी थमा नहीं है, 20 मार्च को प्रस्तावित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लोकार्पण के पूर्व प्राणी उद्यान की कोशिश 25 प्रजातियों के 50 के करीब वन्यजीव और प्राणी उद्यान में लाए जाने की है। हालांकि यह काम किसी चुनौती से कम नहीं है। 11 फरवरी को विनोद वन से वन्यजीव लाए जाने से शुरू हुआ सिलसिला अब तक थमा नहीं है। सोमवार तक राष्ट्रीय प्राणी उद्यान दिल्ली, लखनऊ प्राणी उद्यान, कानपुर प्राणी उद्यान, इटावा लायन सफारी एवं विनोद वन से 26 प्रजातियों के 95 वन्यजीव प्राणी उद्यान में लाए जा चुके हैं। मार्च माह में ही प्राणी उद्यान के लोकार्पण की चुनौतियों के बीच इतनी तेजी दिखाने के बाद भी प्राणी उद्यान में विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीव के बाड़े खाली पड़े हैं। ताकि लोकार्पण के वक्त खाली न रहे कोई बाड़ा प्राणी उद्यान का निर्माण करने वाली कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम और प्राणी उद्यान के अधिकारियों की मंशा है कि योगी आदित्यनाथ लोकार्पण करें तो कोई भी बाड़ा खाली न रहे। बल्कि लोकार्पण के साथ प्राणी उद्यान को पूर्वांचल वासियों के लिए खोल दिया जाए। इसलिए उनकी कोशिश है। कि जल्द से जल्द सभी बाड़ों में वन्यजीव को लाया जाए। लेकिन उनकी यह कोशिश 31 मार्च के पूर्व पूरी होती नहीं दिखती। फिलहाल आने वाले दिनों में वन्यजीव को लाए जाने का सिलसिला और तेज होने वाला है। इन 8 बाड़ों को अभी वन्यजीव का इंतजार गैंडा(राइनो), जेब्रा, हिमायलन ब्लैक बीयर, स्लॉथ बीयर, (भेडिया)वुल्फ, लैपर्ड कैट, फिशिंग कैट, खरहा का बाड़ा खाली ही पड़ा है। इन वन्यजीव को कानपुर एवं लखनऊ प्राणी उद्यान से लाया जाना है। तो कुछ को बिरसामुंडा प्राणी उद्यान झारखण्ड से लाया जाना है।
पक्षियों के 8 बाड़े में 7 खाली पड़े, वॉक एण्ड एवियरी भी खाली इसके अलावा पक्षियों के लिए बनाए गए आठ बाड़े में सिर्फ एक में काकातिल पक्षी है। वॉक एण्ड एवियरी भी खाली पड़ा है। रैप्टाइल श्रेणी के जीवों में सर्पेटेरियम के 10 बाड़ा में सिर्फ 4 में ही सांप हैं। शेष खाली पड़े हैं। बटरफ्लाई ब्रीडिंग एवं कंजरवेशन पार्क में अभी काम चल रहा है। एक्वेरियम भी खाली पड़ा है। सिर्फ एक पशु चिकित्सक के भरोसे प्राणी उद्यान गोरखपुर के प्राणी उद्यान में सिर्फ एक ही पशु चिकित्सक डॉ योगेश प्रताप सिंह अपनी सेवाएं दे रहे हैं। जबकि वाइल्ड लाइफ यूपी के वाइल्ड लाइफ विशेषज्ञ में एक बड़ा नाम डॉ आर के सिंह का है, इन दिनों गोरखपुर प्राणी उद्यान को उनकी भी सेवाएं मिल रही है। इतने कम समय में इतने ज्यादा वन्यजीव को अभिवहन कर सफलता पूर्वक गोरखपुर प्राणी उद्यान में लाना और उन्हें यहां के महौल में रच-बस जाने के पीछे इन दोनों ही डॉक्टरों की सेवाएं सरहनीय है। हालांकि लखनऊ, कानपुर और इटावा लायन सफारी में सभी स्थानों पर 3-3 पशु चिकित्सक तैनात हैं।

गोरखपुर: जा रही थी बॉयफ्रेंड से मिलने और फैला दी अपने किडनैप होने की अफवाह

0

गोरखपुर। कैंट थाना क्षेत्र में विगत 13 मार्च को 19 वर्षीय युवती के भाई ने अपनी बहन के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। जिसमे युवक ने बताया कि उसकी बहन एनसीसी बटालियन के लिए जा रही थी। अभी वह तारामंडल के अमर उजाला तिराहा तक पहुंची थी तभी रास्ते मे उसे एक औरत मिली जिसने साईं बाबा का अपने हाथों में फोटो ली थी।
उस औरत ने कहा कि इस पर फोटो पर कुछ चढ़ा दो और यह प्रसाद खा लो। जैसे ही मेरी बहन में प्रसाद खाया तो उसको चक्कर आ गया उसके बाद उसे कुछ नहीं याद है।
लड़की के भाई ने बताया कि यह सब बातें लड़की ने स्वयं किसी तरह से फोन करके परिवार को बताई है। लेकिन अब उसका मोबाइल फोन बंद आ रहा है। पुलिस ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए उस मोबाइल नंबर से संपर्क करने का प्रयास किया तो वह मोबाइल स्विच ऑफ बता रहा था। सूचना मिलते ही तत्काल मुकदमा दर्ज कर गुमशुदा लड़की की जांच पड़ताल में लग गई। पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की और जब लड़की के मोबाइल का कॉल डिटेल निकलवाया गया तो पाया कि लड़की अपने प्रेमी से गोरखपुर से मिलने हैदराबाद जा रही थी। इस बात की जानकारी होने के बाद गोरखपुर पुलिस ने विदिशा पुलिस से संपर्क कर लड़की को बरामद कर लिया। लड़की के बरामद होने के बाद गोरखपुर पुलिस की एक टीम विदिशा गई और उसे अपने साथ लेकर गोरखपुर आई। जहां उसे परिजनों को सुपुर्द किया गया।
वहीं पुलिस को झूठी सूचना देने के लिए पुलिस अब कारवाई करने का मन बना रही है।

APLICATIONS

लॉकडाउन टू: सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी पड़ेगी भारी

0
महराजगंज। एक तरफ कोरोना संक्रमण से समाज को बचाने के उद्देश्य से प्रशासन द्वारा कड़े निर्णय लिए जा रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कुछ...

HOT NEWS